Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana: हम सब जानते हैं कि आज कुछ देर में हमारे देश में बेरोजगारी दर काफी ज्यादा है इसके बहुत से कारण है लेकिन इसका एक मुख्य कारण यह भी है कि युवाओं के पास में कौशल की काफी कमी है जिसकी वजह से उन्हें कोई भी काम नहीं मिल पाता है इसी बात को प्रधानमंत्री मोदी जी की सरकार ने दी जाना और Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana की शुरुआत तक की है |

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana

इस योजना के तहत सरकार देश के हर अलग अलग राज्य के युवाओं को प्रशिक्षण देने जा रही है जिससे कि उन्हें रोजगार मिलने में आसानी होगी हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana Register की प्रक्रिया के बारे में बताएंगे किसी का साथ में यह भी की प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना  के लिए आवेदन कौन कर पाएगा यह सारी जानकारी हम  इस पोस्ट माध्यम से प्रदान करने जा रहे हैं |

अगर आपने 10वी या फिर 12वीं क्लास को पास कर लिया है तो आपके लिए काफी अच्छा मौका है कि आप तो इस योजना के तहत प्रशिक्षण ले सकते हैं और एक बच्ची नौकरी भी प्राप्त कर सकते हैं अगर आप भी एक अच्छी नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो हमारी इस पोस्ट को अंतिम तक जरूरत पड़े |

इससे पहले कि हम आपको जो है प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के बारे में जानकारी देना शुरू करें अगर आपको सरकार के द्वारा चलाई जा रही या फिर आने वाली किसी योजना के बारे में कोई जानकारी की जरूरत है तो आप हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध दूसरी पोस्ट को भी जरूर पढ़ें जहां पर हमने हर एक कर महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे में बताया है |

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2021 In Hindi

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana एक कौशल प्रशिक्षण योजना है जिसे 2016 से 2020 के बीच लगभग 10 मिलियन युवाओं को उद्योग से संबंधित कौशल प्रदान करने के लिए शुरू किया गया था। यहाँ, सरकार खुद प्रशिक्षण की लागत वहन करती है योजना के तहत सरकार का लक्ष्य है कि देश के सभी युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाए जिससे कि उन्हें कहीं पर भी नौकरी मिलने में आसानी हो सके |

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana

भारत दुनिया के सबसे कम उम्र के राष्ट्रों में से एक है जिसकी आबादी का 62% से अधिक कार्य आयु वर्ग (15 – 59 वर्ष) है, और लगभग 54%, 25 वर्ष से कम आयु है। इस जनसांख्यिकीय लाभांश का लाभ उठाने के लिए, भारत को अपने कार्यबल को रोजगारपरक कौशल और ज्ञान से लैस करने की आवश्यकता है ताकि वे देश की आर्थिक वृद्धि में योगदान कर सकें। भारतीय अर्थव्यवस्था 8% से 9% की दर से बढ़ने के लिए, विकास की प्रमुख मात्रा को द्वितीयक और तृतीयक क्षेत्रों से आना होगा |

जिससे इन क्षेत्रों में कुशल मानव शक्ति की तत्काल आवश्यकता होगी। 22% भारतीय अभी भी गरीबी रेखा से नीचे हैं और सरकार की कौशल विकास नीतियां समाज के इन वर्गों की आय बढ़ाने और समावेशी विकास लाने पर केंद्रित हैं शिक्षा प्रणाली में उन लोगों की स्किलिंग भी महत्वपूर्ण होती जा रही है क्योंकि उद्योग इन स्नातकों को अत्यधिक बेरोजगार पाता है।

इन चुनौतियों का सामना करने के लिए, सरकार ने 2022 तक 400 मिलियन लोगों को स्किल / री-स्किलिंग सहित प्रशिक्षित करने के लिए एक महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है। भारत सरकार के 18 मंत्रालय विभिन्न लक्षित कौशल विकास और रोजगार सृजन कार्यक्रमों में लगे हुए हैं राष्ट्रीय कौशल विकास नीति (एनएसडीपी) पहली बार 2009 में शुरू की गई थी और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) की स्थापना के साथ एक संशोधित एनएसडीपी 2015 में शुरू किया गया था। एनएसडीपी 2015 का उद्देश्य स्केलिंग, गति पर कौशल की चुनौतियों का सामना करना है |

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana से मिलने वाली लाभ 

  • यह योजना बेरोजगार युवकों को लागत-मुक्त, उद्योग-संबंधित कौशल प्रशिक्षण और उन्हें रोजगार के लायक बनाने के लिए स्कूल या कॉलेज छोड़ने की पेशकश करती है
  • यह योजना वैध प्रमाणीकरण और स्किल इंडिया कार्ड आधार प्रदान करती है जिसे उम्मीदवार नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं और आजीविका कमा सकते हैं
  • यह योजना उन अभ्यर्थियों को वित्तीय और प्लेसमेंट सहायता प्रदान करती है जिन्हें प्रमाणपत्र प्रदान किया गया है
  • यह योजना युवाओं को पूर्व अनुभव के साथ प्रशिक्षण भी प्रदान करती है ताकि उनके कौशल और औद्योगिक आवश्यकताओं के बीच की खाई को पाटा जा सके
  • योजना एक कुशल कार्यबल बनाकर देश के आर्थिक विकास में योगदान करती है।

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojanaका उद्देश्य 

  • अगर इस योजना के उद्देश्य की बात की जाए तो केंद्र सरकार की कोशिश है कि देश के युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाए जिससे कि उन्हें नौकरी मिलने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो |
  • क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आज के समय में करोड़ों युवा बेरोजगार है जिसकी वजह से इन जैसी योजनाओं की काफी ज्यादा जरूरत है और सरकार का लक्ष्य भी है कि इस योजना के तहत बेरोजगारों को कम किया जा सके |
  • सरकारी अच्छे से जानती है कि और किसी को सरकारी नौकरी नहीं दी जा सकती है निजी क्षेत्र में ही नौकरी देने की कोशिश की जा रही है |

निष्कर्ष 

आपको भी नौकरी की तलाश है Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana एक अच्छा विकल्प हो सकता है इसकी मदद से आप प्रशिक्षण ले सकते हैं ताकि आपको आगे नौकरी मिलने में काफी जगह आसानी होगी | 

faq

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojanaका उद्देश्य क्या है ?

1. अगर इस योजना के उद्देश्य की बात की जाए तो केंद्र सरकार की कोशिश है कि देश के युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाए जिससे कि उन्हें नौकरी मिलने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो |
2. क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आज के समय में करोड़ों युवा बेरोजगार है जिसकी वजह से इन जैसी योजनाओं की काफी ज्यादा जरूरत है और सरकार का लक्ष्य भी है कि इस योजना के तहत बेरोजगारों को कम किया जा सके |
3. सरकारी अच्छे से जानती है कि और किसी को सरकारी नौकरी नहीं दी जा सकती है निजी क्षेत्र में ही नौकरी देने की कोशिश की जा रही है |

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana से मिलने वाली लाभ क्या है ?

1. यह योजना बेरोजगार युवकों को लागत-मुक्त, उद्योग-संबंधित कौशल प्रशिक्षण और उन्हें रोजगार के लायक बनाने के लिए स्कूल या कॉलेज छोड़ने की पेशकश करती है
2. यह योजना वैध प्रमाणीकरण और स्किल इंडिया कार्ड आधार प्रदान करती है जिसे उम्मीदवार नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं और आजीविका कमा सकते हैं
3. यह योजना उन अभ्यर्थियों को वित्तीय और प्लेसमेंट सहायता प्रदान करती है जिन्हें प्रमाणपत्र प्रदान किया गया है
4. यह योजना युवाओं को पूर्व अनुभव के साथ प्रशिक्षण भी प्रदान करती है ताकि उनके कौशल और औद्योगिक आवश्यकताओं के बीच की खाई को पाटा जा सके
5. योजना एक कुशल कार्यबल बनाकर देश के आर्थिक विकास में योगदान करती है।