आज भी हम सभी जानते हैं कि हमारे देश में गरीबी काफी बड़ी समस्या है और इसके चलते सरकार गरीब लोगों के लिए काफी ज्यादा काम कर रही है और खास करके जब कोई महिला गर्भवती हो जाती है और अगर वह गरीब परिवार से है तो उसके लिए यह काफी बड़ी समस्या होती है क्योंकि अच्छे हॉस्पिटल में जाने के लिए गरीब महिलाओं के पास इतने पैसे नहीं होते हैं इसीलिए सरकार ने जो है Janani Suraksha Yojana को शुरू करने का फैसला किया है | 

Janani Suraksha Yojana 2021 Hindi | जननी सुरक्षा योजना

जिसके तहत जो भी महिला गर्भवती है उनको सरकार के तरफ से कुछ मदद प्रदान की जाएगी, क्योंकि अगर आपको जानकारी नहीं है तो हम आपको बता देती गरीब तबके की महिलाएं जब गर्भवती होती है तो उन्हें अपने बच्चे का ध्यान रखने के लिए पैसे भी नहीं मिलते हैं और कई परिस्थितियों में तो बच्ची को काफी नुकसान भी होता है | 

इसीलिए सरकार ने जो है इस योजना को शुरू किया है जिसके तहत सरकार गरीब महिला गर्भवती की मदद करने जा रही है डिलीवरी के समय पैसे की काफी ज्यादा जरूरत होती है और ऐसे में कोई गरीब परिवार से है तो उसके लिए काफी बड़ी समस्या होती है इसीलिए सरकार ने जो है जब भी किसी की डिलीवरी होगी तो सरकार इसके तहत कुछ आर्थिक मदद प्रदान करेगी | 

अगर आप भी इस योजना का फायदा उठाना चाहते हैं तो आप ले सकते हैं आपको सिर्फ हमारी इस पोस्ट को ध्यान पूर्वक पढ़ने की जरूरत है जहां पर हम आपको बताएंगे कि इसके लिए आवेदन कैसे करना है इसी के साथ में आपके पास है कौन से महत्वपूर्ण दस्तावेज होनी चाहिए और इसके अलावा और कोई सवाल है तो उनका भी हम  जवाब देंगे | 

Ghar Ghar Ration Yojana 2021 Hindi

Janani Suraksha Yojana

जननी सुरक्षा योजना अप्रैल 2005 में राष्ट्रीय मातृत्व लाभ योजना (NMBS) को संशोधित करके शुरू की गई थी। NMBS राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (NSAP) के घटकों में से एक के रूप में अगस्त 1995 में प्रभावी हुआ। इस योजना को वर्ष 2001-02 के दौरान ग्रामीण विकास मंत्रालय से स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग में स्थानांतरित किया गया था। NMBS रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करता है 500 / – प्रति जीवित जन्म दो गर्भवती महिलाओं को जो 19 वर्ष की आयु प्राप्त कर चुकी हैं और गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) घरों से संबंधित हैं।

इस योजना को सबसे पहले सिर्फ कुछ ही राज्यों में शुरू किया गया था लेकिन उसके बाद में इसे पूरे देश भर में शुरू कर दिया गया और इसके तहत जब भी कोई गर्भवती महिला की डिलीवरी होती है तो मुझे कुछ आर्थिक मदद दी जाती है जिससे कि वह इस साल मुश्किल समय में उन पैसों से कुछ मदद मिल पाए |

सरकार को भी अच्छे से पता है कि या योजना के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण है इसीलिए सरकार जो है कितने सालों के बाद में भी इस योजना को पूरी तरीके से चला रही है और हर साल इस योजना पर करोड़ों रुपए खर्च  कर रही है और आगे आने वाले समय में भी सरकार इस योजना में कुछ और भी बड़े बदलाव करने जा रही है हम उनके बारे में भी आपको जरूर बताएंगे |

इस योजना की जरूरत क्यों?

अभी तक आप को Janani Suraksha Yojana क्या है इसके बारे में आपको संपूर्ण जानकारी प्रदान करती है लेकिन अभी हम बात करते हैं कि किस प्रकार से जो है यह योजना आज के समय में इतनी ज्यादा महत्वपूर्ण हो गई है और सरकार को इस योजना को शुरू क्यों करने की जरूरत पड़े हम इसके बारे में आपको विस्तार से बताएं जिससे कि आप इस योजना के बारे में और बेहतर तरीके से समझ पाएंगे |

भारत में हर साल लगभग 56,000 महिलाएं गर्भावस्था से संबंधित जटिलताओं के कारण मर जाती हैं इसी तरह, हर साल जन्म के 1 वर्ष के भीतर 13 लाख से अधिक शिशुओं की मृत्यु हो जाती है और इनमें से लगभग 2/3 शिशुओं की मृत्यु जीवन के पहले चार हफ्तों के भीतर हो जाती है इनमें से लगभग 75% मौतें जन्म के एक सप्ताह के भीतर होती हैं और इनमें से अधिकांश जन्म के बाद पहले दो दिनों में होती हैं।

मातृ और शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) के तहत प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम को संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के लिए लागू किया जा रहा है ताकि जन्म के समय कुशल उपस्थिति उपलब्ध हो और महिलाओं और नवजातों को गर्भावस्था से संबंधित मौतों से बचाया जा सके। ।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) द्वारा जननी सुरक्षा योजना (JSY) सहित कई पहल शुरू की गई हैं जो एक महत्वपूर्ण हस्तक्षेप है जिसके परिणामस्वरूप संस्थागत प्रसव में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है।

इस योजना की विशेषता 

यह योजना गरीब गर्भवती महिला पर केंद्रित है जिसमें राज्यों की कम संस्थागत प्रसव दर है अर्थात् उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, असम, राजस्थान, उड़ीसा और जम्मू और कश्मीर। जहां इन राज्यों को लो परफॉर्मिंग स्टेट्स (LPS) नाम दिया गया है वहीं बाकी राज्यों को हाई परफॉर्मिंग स्टेट्स का नाम दिया गया है |

  • इस योजना के तहत गरीब परिवारों को आर्थिक मदद के साथ-साथ गर्भवती महिलाओं को भी फायदा पहुंचाने का लक्ष्य  है |
  • अगर इस योजना की विशेषता के बारे में जानने की कोशिश करे तो इसके तहत डिलीवरी के समय कुछ आर्थिक मदद मिलने वाली  है |

महत्वपूर्ण दस्तावेज 

अगर आप इस योजना के लिए आवेदन करने की सोच रही है तो उसके लिए सबसे पहले आपको यह भी जानकारी होनी चाहिए कि आपके पास में कौन से दस्तावेज होने चाहिए जिससे कि आवेदन करते समय आपको कोई समस्या नहीं होगी और यह भी जानेंगे कि किस प्रकार से आप आवेदन कर सकते हैं |

सबसे पहले हम आपको बता दें कि आवेदन करने के लिए कोई भी ऑनलाइन प्रक्रिया नहीं है इसके लिए आपको ऑफलाइन ही करना होगा जब भी आप किसी सरकारी अस्पताल में डिलीवरी करवाने के लिए जाते हैं तो उस वक्त ही आप जो इस योजना का फायदा ले सकते हैं |

यहां पर हम बात करते हैं कि कौन से दस्तावेज आपके पास में होनी चाहिए | हम नीचे उन सभी के बारे में बिल्कुल विस्तार से जानकारी दे रहे हैं |

  • आधार कार्ड 
  • पैन कार्ड 
  • वोटर आईडी कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट
निष्कर्ष 

हमने इस पोस्ट में आपको Janani Suraksha Yojana के बारे में जानकारियों को शुरू किया है लेकिन इसके अलावा भी अगर आपका कोई जानकारी की जरुरत है तो आप हमसे उसके बारे में पूछ सकते है |